गंगा को निर्मल बनने में 10वर्ष का समय लगेगा – उमा भारती

खबरे राजनीति

केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने आखिरकार गंगा को निर्मल बनाने के लिए 10 वर्षों का समय मांगा है। रविवार को फर्रुखाबाद में उमा भारती ने कहा कि गंगा को पूरी तरह निर्मल करने के लिए 10 वर्षों का समय लगेगा. जो चरणबद्ध तरीके से पूरा किया जाएगा ‘

केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने फर्रुखाबाद में रविवार (5 जून ) को गंगा चौपाल कार्यक्रम में पत्रकारों से बात करते हुए उमा भारती ने कहा कि ‘गंगा सफाई के मद्देनजर गंगा के किनारे स्थापित उद्योगों को दूसरी जगह स्थापित किया जाएगा. जिसका पूरा खाका तैयार कर लिया गया है.’

इस बारे में आगे जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि कानपुर स्थित टेनरियों को दूसरी जगह स्थापित किए जाने के लिए प्रदेश के उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रयास ज=कर रहे है। उन्होंने कहा कि एक बार गंगा के निर्मल होने के बाद उसमें लगातार निर्मलता बनी रहे इसके लिए जन जागरूकता अभियान की जरूरत है, इसके लिए वह स्वयं गंगोत्री से गंगा सागर तक पदयात्रा कार्यक्रम का आयोजन करेंगी।

पहले दो साल फिर 5 और 7 साल की बात… अब 10 साल
आपको याद दिला दें कि एक साल पहले (मई 2016 में) मोदी सरकार के दो साल पूरा होने पर एक कार्यक्रम में उमा भारती ने कहा था कि 2018 तक गंगा पूरी तरह साफ हो जाएगी. उन्होंने कहा था, ‘आज गंगा दुनिया की 10 सबसे गंदी नदियों में से एक है. 2018 तक, यह विश्व की 10 सबसे साफ नदियों में से एक होगी.’।

कुछ दिन पहले मई 2017 में उन्होंने गोरखपुर में कहा था, ‘अगर यूरोप की टेम्स नदी को साफ होने में 60 वर्ष और राइन नदी को साफ होने में 70 वर्ष लगे तो गंगा की सफाई के लिए चार-पांच वर्ष का समय तो देना ही होगा. कार्य बड़ा है, इसलिए वक्त तो लगेगा ही. थोड़ा इंतजार करिए.’।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *