भीड़ ने एक और मुस्लिम युवक को पीटा, हालत गंभीर

खबरे समाज

केंद्र में भारतीय जनता पार्टी के सत्ता संभालने के बाद दलित और मुस्लिमों के खिलाफ ‘मॉब लिंचिंग’ के मामले काफी बढ़ गए हैं।  इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। बताया जा रहा है कि यह वीडियो झारखंड के बोकारो जिले है। इस वीडियो में भीड़ एक युवक को निशाना बनाती दिख रही है। एक शख्स को भीड़ ने बुरी तरह पीटा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बोकारो जिला के कथारा टाउन के रहने वाले मुस्लिम युवक मोहम्मद शाकिर को लड़की से छेड़छाड़ के आरोप में भीड़ ने बुरी तरह पीटा। बताया जाता है कि शाकिर आधार कार्ड प्रिंटिंग का शॉप चलाता है। सुबह जैसे ही वह शॉप खोलने आया तो करीब 50 लोगों की भीड़ वहां पहुंची और उसपर हमला कर दिया।

यह भी पढ़े   यूपी में अल्पसंख्यक परिवार पर भीड़ ने ट्रेन में किया हमला

बीबीसी हिंदी के अनुसार भीड़ ने जिस व्यक्ति को पीटा उसका नाम मोहम्मद शाकिर है। पुलिस का कहना है कि एक नाबालिग लड़की ने शाकिर के खिलाफ शिकायत कर उस पर छेड़छाड़ के आरोप लगाए हैं जिसकी जांच की जा रही है। वहीं शाकिर के परिजनों ने बीबीसी को बताया कि शाकिर पर हुआ हमला नफरत से प्रेरित है और मारने वाले सभी लोग दूसरे समुदाय के हैं।

इंडिया टुडे के मुताबिक, शाकिर प्रज्ञा सेंटर में काम करता था। कुछ स्थानीय लोगों ने शाकिर को ऑफिस में महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देखा था। देखते ही देखते दर्जनों की संख्या में लोग इक्ट्ठा हो गए और शाकिर को घसीटते हुए बाहर लाए। शाकिर को नंगा किया गया और फिर बाजार में घुमाया गया।

यह भी पढ़े   जय श्री राम कहकर परिवार की जान बचायी

भीड़ द्वारा पिटाई करने से शाकिर नाम का एक व्यक्ति बेहोश हो गया। उसे बोकारो अस्पताल भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। इस बीच पुलिस ने हीरा लाल और मंटू यादव समेत अन्य 15 लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर लिया है। हालांकि अब तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

इस घटना के बाद से शाकिर का परिवार डरा हुआ है और वे लोग किसी से बात करना नहीं चाह रहे हैं। जब सामाजिक कार्यकर्ताओं और पत्रकारों ने फोन कर जानकारी लेनी चाही तो परिवार के सदस्यों से बात नहीं सकी। कई बार की कोशिशों के बाद सामाजिक कार्यकर्ता नदीम खान ने शाकिर के भाई शमीम से बात की। शाकिर के भाई ने इस घटना को दर्दनाक बताया।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *