लालू को उनकी मर्जी के खिलाफ रांची मेडिकल कॉलेज भेजने की तैयारी

खबरे राजनीति

आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने एक चिट्टी लिख कर कहा है कि उन्हें जबर्दस्ती रांची मेडिकल कॉलेज भेजा जा रहा है अभी वो पूरी तरह से स्वस्थ नहीं हुए है। असल में मामला यह है कि  एम्स द्वारा जारी एक वक्तव्य में कहा  है कि अब लालू यादव की हालत में काफी सुधार है, इसलिए दीर्घकालिक बीमारियों के इलाज के लिए उन्हें वापस रांची मेडिकल कॉलेज भेजा जा  रहा है

दूसरी तरफ लालू यादव ने एम्स को पत्र लिखकर कहा है कि वे रांची के अस्पताल में शिफ्ट होना नहीं चाहते हैं क्योंकि उस अस्पताल में उनके बीमारी के इलाज के लिए पर्याप्त सुविधाएं नहीं हैं।

एम्स के इस फैसले के बाद लालू यादव के बेटे और बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि लालूजी को एम्स से शिफ्ट करने का निर्णय बहुत जल्दबाजी में लिया गया है। एम्स बेहतर है और मैं चकित हूं कि यह फैसला क्यों लिया गया। उन्होंने यह भी कहा कि सिर्फ एम्स प्रशासन ही बता सकता है कि ऐसा फैसला लेने के पीछे क्या कारण है।

लालू यादव चारा घोटाले के तीन मामलों में सजा काट रहे हैं। किडनी में इन्फेक्शन की वजह से उन्हें एम्स रेफर किया गया था। कुछ दिनों पहले खबर आई थी कि उनकी किडनी अभी पूरी तरह से फंक्शन नहीं कर रही है। तेजस्वी ने भी कुछ दिनों पहले पिता से मुलाकात करने के बाद उनके गिरते स्वास्थ्य पर चिंता जताई थी। लालू को किडनी के अलावा शूगर, बीपी और हार्ट प्रॉब्लम भी है।

आज ही सुबह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एम्स जाकर लालू यादव से मुलाकात की थी। दो राजनीतिक दिग्गजों की मुलाकात पर सियासी खिचड़ी भी पकनी शुरू हो गई थी। ऐसे कयास लगाए जा रहे है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और लालू प्रसाद यादव की मिलने के बाद यह फैसला लिया गया है।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *