ख़राब ईवीएम मशीनों के बीच दिल्ली नगर निगम चुनाव संपन्न

खबरे राजनीति

आज दिल्ली में एमसीडी इलेक्शन के लिए 1.32 करोड़ मतदाताओं ने 272 वार्ड के लिए 13,022 बूथों पर भारी सुरक्षा के बीच अपना वोट डाला। दिल्ली नगर निगम के तीन भाग है – उतरी दिल्ली नगर निगम (104), दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (104) और पूर्वी दिल्ली नगर निगम (63)।

पीटीआई के अनुसार कई जगह पर ईवीएम मशीन ख़राब होने की खबरों के बावजूद वोटिंग ख़तम होने तक 54 प्रतिशत मतदान हो चूका था।

उतरी दिल्ली के बुराड़ी क्षेत्र, जीटीबी नगर और कापासहेड़ा से ईवीएम मशीन ख़राब होने की खबरे आयी। दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और चुनाव से एक हफ्ता पहले भाजपा में शामिल होने वाले अरविंदर सिंह लवली भी ख़राब ईवीएम मशीन के कारण सुबह में अपना वोट पूर्व आज़ाद नगर बूथ पर नहीं डाल पाए। वहीँ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल चुनाव आयोग पर बरस गए उन्होंने कहा कि दिल्ली के हर कोने से ईवीएम मशीन ख़राब होने की खबरे आ रही है और बहुत जगह पर लोगो के पास सही वोटर स्लिप होने के बावजूद उनको वोट नहीं डालने दिया जा रहा है।

एनडीटीवी की एक रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली राज्य चुनाव आयोग के एक सदस्य ने माना कि कुछ जगहों से ईवीएम मशीन ख़राब होने की शिकायते जरूर आयी जिसके कारण चुनाव कुछ समय का विलम्ब हुआ पर अब सबकुछ सही है और ख़राब ईवीएम मशीनो बदल दिया गया है।

उतरी दिल्ली नगर निगम के सराई पीपल और पूर्वी दिल्ली नगर निगम के मौजपुर में उम्मीदवार की मौत के कारण मतदान स्थगित कर दिया गया। दोनों उम्मीदवार समाजवादी पार्टी के थे। दिल्ली राज्य चुनाव आयोग अब मौजपुर में 14 मई को और सराई पीपल में 21 मई को चुनाव होगा।

वोटिंग देख कर ऐसा लगता है जैसे काटे की टकर चल रही है। पर इसका फैसला अगले सप्ताह के 26 तारीख हो जाएगा। दिल्ली में आम पार्टी का जादू फिर से चलेगा या दिल्ली की जनता अपनी बागडोर फिर से भारतीय जनता पार्टी के हाथ सौपना चाहती है। वही दूसरी तरफ नई पार्टी के तौर पर स्वराज इंडिया भी दिल्ली के नगर निगम चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रही है। अब देखना यह है कि स्वराज इंडिया क्या कुछ रंग दिखाती है।

आजतक के ऐक्सिस इंडिया एग्जिट पोल के अनुसार भाजपा जबरदस्त बहुमत के साथ जीत रही है। उनके इस सर्वे में भाजपा को 202-220, कांग्रेस को 19-31 और आम आदमी पार्टी को सिर्फ 23-33 सीट मिल रही है।

अब यह तो आने वाला वक़्त ही बताएगा की दिल्ली की जनता ने किसने अपना पार्टी को अपना प्रतिनिधि चुनती है।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *