बीजेपी नेता ने जलाया रोहिंग्या शरणार्थियों की झुग्गियों को, सोशल मीडिया पर कबूल किया

खबरे जातिवाद धर्म

पिछले दिनों दिल्ली के  कालिंदी कुंज से तकरीबन एक किलोमीटर की दूरी पर कंचन कुंज में  रोहिंग्या शरणार्थियो  के लिए सात  साल पहले बनाई गई झुगिग्यो में एकाँएक से आग लग गयी थी जिसके कारन पूरी बस्ती जल कर राख हो गयी इन झुग्गियों जलाने की घटना में बीजेपी नेता का नाम सामने आ रहा है। बीजेपी युवा मोर्चा के सदस्य मनीष चंदेला ने सोशल मीडिया पर रोहिंग्या बस्ती को जलाने की बात स्वीकार की है

 

मुस्लिम सगंठन से जुड़े  पदाधिकारी ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक को पत्र लिख कर आरोपी के लिखाफ कार्यवाई की मांग की है।

मुस्लिमों से जुड़े संयुक्त संगठन ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस मुशवरत ने अपने पत्र में लिखा है-यह आपके संज्ञान में लाना है कि बीजेपी युवा मोर्चा के सदस्य मनीश चंदेला ने ट्विटर पर सार्वजनिक रूप से रोहिंग्या झुग्गियों को जलाने की बात स्वीकार की है। संगठन ने बीजेपी यूथ लीडर के संबंधित ट्विटर के स्क्रीनशॉट भी प्रार्थनापत्र के साथ संलग्न कर कार्रवाई की मांग की।

 

बता दें कि15 अप्रैल की रात दक्षिण दिल्ली के कालिंदी कुंज में रोहिंग्या के रिफ्यूजी कैंप में आग लगने से  लगभग 55 झुग्गियों में से 44 आग में झुलस गयीं, जिससे 25 परिवारों के करीब 250 रोहिंग्या शरणार्थी बेघर हो गए।  जिसके कारण रोहिंग्या के सभी सामान जल कर नष्ट हो गए थे।

मुस्लिम संगठन के अध्यक्ष नवैद हामिद ने कहा कि आरोपी ने सोशल मीडिया पर खुलेआम अपराध स्वीकार कर दिल्ली पुलिस और अन्य जांच एजेंसियों को खुली चुनौती दी है। हम आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत केस और आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी चाहते है।

 

prashant bhushan

वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण का कहना है कि उन्होंने बीजेपी युवा मोर्चा के नेता मनीष चंडेला के खिलाफ पुलिस में आपराधिक शिकायत दर्ज़ करवाई है। मनीष चंडेला जिन्होंने गर्व से सोशल मीडिया पर यह दावा किया है कि  वह और उसके सहयोगियों ने रोहिंग्या शिविर को जला दिया था। पर दिल्ली पुलिस द्वारा अभी तक कोई कार्यवाई नहीं हुई है .

रोहिंग्या म्यांमार के वो मुस्लिम हैं, जो वहां के रखाईन प्रांत में बौद्धों के साथ टकराव के बाद से भागने को मजबूर हुए हैं। बाग्लादेश और भारत में प्रभावित रोहिंग्या बतौर शरणार्थी रह रहे हैं।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *