दलित विरोधी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भीम आर्मी पर खनन माफिया से पैसे लेने का आरोप लगाया

खबरे बहुजन आवाज

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर भीम आर्मी को खनन माफिया से जोड़ने की कोशिश की है योगी आदित्यनाथ कहते है की भीम आर्मी को पैसे खनन माफिया से मिलता है जिसके बदौलत भीम आर्मी चल रहा है।

वही दूसरी तरफ भीमआर्मी के राष्ट्रीय प्रवक्ता कल्याण सिंह ने इस बात को खारिज करते हुए कहा है की भीम आर्मी एक दलित संगठन है जो दलितों के कल्याण के प्रति समर्पित है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भीम आर्मी की छवि को ख़राब करने की कोशिश कर रहे है।

कल्याण सिंह ने बताया, “मुख्यमंत्री अनावश्यक रूप से भीम आर्मी को अवैध माफिया से जोड़ रहे हैं। भीम आर्मी मुख्य रूप से दलितों के उत्थान में शामिल एक सामाजिक संगठन हैं।

 यह भी पढ़े    भीम आर्मी के चंद्रशेखर हिमाचल प्रदेश से हुए गिरफ्तार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का इशारा बीएसपी नेता मोहम्मद इकबाल की ओर है, जो सहारनपुर क्षेत्र में अवैध खनन रैकेट के प्रमुखपक्ष थे। कल्याण सिंह कहते है जहा एक तरह से बसपा प्रमुख मायावती ने भीम आर्मी को आरएसएस का एजेंट कहते हुए भीम आर्मी से किनारा कर लिया था ऐसे हमारा सगठन को योगी जी कैसे जोड़ सकते है।

एक चैनल के साथ एक साक्षात्कार के दौरान, योगी ने कहा था, “सहारनपुर में खनन माफिया ने अवैध खनन के माध्यम से अवैध धन अर्जित किया है और जिले में हाल की हिंसा के लिए जिम्मेदार है। हमारी जांच से पता चला है कि वे भीम आर्मी के मुख्य फाइनेंसरों खनन माफिया है।

मुख्यमंत्री के वक्तव्य पर प्रतिक्रिया देते हुए सिंह ने कहा, “इन प्रकार के बयान राज्य में अपराध को नियंत्रित करने में भाजपा सरकार की असफलता का सिर्फ एक प्रतिबिंब है।हमारा सगठन जो भी अच्छा काम कर रहा है वह दान के माध्यम से एकत्र किया हुआ पैसा है जो हम केवल दलित समुदाय से एकत्र करते हैं।

इससे पहले एक आरोप था कि (भीम सेना प्रमुख) चंद्रशेखर के खाते में 50 लाख रूपए जमा हुए है जिसका अभी तक कोई साक्ष्य नहीं मिल पाया है हम अपने आंदोलन के लिए अवैध स्रोतों पर निर्भर नहीं हैं।

आपको बता दें कि सहारनपुर के शब्बीरपुर में 5 मई को ठाकुरों ने दलितों की बस्ती में आग लगा दी थी। इसके बाद भीम आर्मी ने प्रशासन को 8 मई तक इस मामले में कार्रवाई का अल्टीमेटम दिया। इसके बाद कोई कार्रवाई नहीं हुई तो भीम आर्मी ने सहारनपुर में मीटिंग रखी। इसमें शामिल हुए लोगों पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया इसके बाद यहां हालात बिगड़ गए। जिसके बाद पुलिस ने भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर को यूपी पुलिस ने गुरुवार हिमाचल प्रदेश के डलहौजी में सुभाष चौक से गिरफ्तार कर लिया था।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *