बाबरी मस्जिद विध्वंस के मामले में आडवाणी, जोशी और उमा पर चलेगा क्रिमिनल केस

खबरे धर्म राजनीति राष्ट्रीय

सुप्रीम कोर्ट ने 1992 के बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में भाजपा नेता लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और केंद्रीय मंत्री उमा भारती सहित 10 भाजपा नेताओं पर आपराधिक साजिश का मुकदमा चलाने का आदेश दिया है। इस मामले में सिर्फ कल्याण सिंह को इम्युनिटी दी गई है क्योंकि वो फिलहाल राजस्थान के गवर्नर हैं। संविधान के अनुसार उन पर तभी मुकदमा चल सकता है जब वे अपना राज्यपाल का पद छोड़ देंगे।

सुप्रीम कोर्ट के जज पीसी घोष और रोहिंटन नरीमन के पीठ ने सीबीआई की अपील पर फैसला सुनाते हुए कहा कि बाबरी मस्जिद को तोड़ने की साज़िश के आरोप में  रोज़ सुनवाई होगी और इस मुकदमे की सुनवाई कर रहे किसी भी जज का तबादला सुनवाई के दौरान नहीं किया जाएगा। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में यह भी कहा कि इस मामले में लखनऊ और रायबरेली की अदालतों में ये मुकदमें अब एक साथ चलेंगे।

फैसला सुनाते हुए अदालत ने कहा कि आडवानी, जोशी और अन्य के खिलाफ अतिरिक्त आरोप चार हफ्ते में तय किए जाएं। इस मामले में सीबीआई ने आडवानी और 20 अन्य के खिलाफ धारा 153ए, 153बी 505 के तहत आरोप पत्र दाखिल किया था।

अयोध्या में छह दिसंबर 1992 को विवादित राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद इमारत को तोड़ने के कथित षड्यंत्र, भडकाऊ भाषण और पत्रकारों पर हमलों के कई मुकदमे वर्षों से कानूनी दांव पेंच में उलझे हुए हैं।

आइए जानते हैं उन लोगों के बारे जिन पर शुरु में आपराधिक साज़िश के आरोप लगे थे। इनमें से कुछ की मौत हो चुकी है

महंत नृत्यगोपाल दास : ये इस समय रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष हैं।

गिरिराज किशोर : अयोध्या में राम मंदिर निर्माण आंदोलन में शामिल रहे गिरिराज किशोर का 14 जुलाई 2014 को निधन हो गया था।

महंत अवैद्यनाथ : गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर के पूर्व महंत अवैद्यनाथ रामजन्मभूमि आंदोलन के प्रमुख नेता थे। वो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी के गुरु थे। उनका 13 सितंबर 2014 को निधन हो गया।

अशोक सिंघल : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के संगठन विश्व हिंदू परिषद का रामजन्मभूमि के लिए चलाए गए आंदोलन में महत्वपूर्ण रोल था। सिंघल का 17 नवंबर 2015 को निधन हो गया था।

बाल ठाकरे : उग्र हिंदूवादी राजनीतिक दल शिव सेना के संस्थापक बाल ठाकरे का नाम भी इस सूची में शामिल है। ठाकरे का 17 नवंबर 2012 को निधन हो गया था।

कल्याण सिंह : अयोध्य में छह दिसंबर 1992 को जब बाबरी मस्जिद गिराई गई, उस समय उत्तर प्रदेश में कल्याण सिंह के नेतृत्व में भाजपा की सरकार थी। कल्याण सिंह इस समय राजस्थान के राज्यपाल हैं।

महंत रामचंद्रदास, मोरेश्वर साबे, परमहंस रामचंद्रदास का निधन हो चुका है और इनके अलावा साध्वी ऋतंभरा, आरएसएस नेता चंपत राय, भाजपा नेता सतीश प्रधान, महामंडलेश्वर जगदीश गुप्त, सीआर बंसल, भाजपा के पूर्व सांसद रामविलास वेदांति, बैकुंठलाल शर्मा, विनय कटियार और डॉक्टर सतीश कुमार नागर के नाम शामिल हैं।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *