31 मई जनसंघर्ष न्यूज़ बुलटेन – खबरे जो करे आपका दिन शुरू

खबरे राजनीति

यूपीः मायावती ने खाली किया बंगला, स्पीड पोस्ट से भेजी चाबी

बसपा अध्यक्ष मायावती ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए लखनऊ में लालबहादुर शास्त्री मार्ग स्थित बंगला नंबर छह खाली कर दिया है. उनके निजी सचिव ने बुधवार को मीडिया को यह जानकारी दी।  शीर्ष कोर्ट के आदेश पर राज्य संपत्ति विभाग ने पूर्व मुख्यमंत्रियों को 15 दिन के भीतर बंगले खाली करने का नोटिस जारी किया था, जिसके बाद मायावती ने बंगला खाली किया . Source-Aaj Tak

तीन साल के बच्चे पर गुंडा एक्ट

उत्तरप्रदेश  के  निबिहनपुरवा गांव के रहने वाले विद्याराम के तीन साल के बेटे पर गिलौला पुलिस थाने में पहले एससी एसटी/एक्ट लगाया और फिर उसके ऊपर गुंडा एक्ट लगाकर न्यायालय में पेश होने के लिए नोटिस भेजी।
यूपी पुलिस के फरमान पर जब विद्या राम अपने तीन साल के बेटे को गोद में लेकर कोर्ट पहुंची तो हड़कंप मच गया।
बच्‍चे को देखकर जज ने भी पुलिस को खरी खोटी सुनाई. कोर्ट ने कहा कि बिना जांच पड़ताल किए कैसे तीन साल के बच्चे पर गुंडा एक्ट लगाया गया. पुलिस को जज साहब ने सलाह दी कि बिना जांच पड़ताल किए इस तरह का केस ना लिखें.  Source- Dalit Dastak

सोशल मीडिया की पोस्ट और ईमेल तक पर नजर रखेगी मोदी सरकार, बना रही है टीम

अंतरराष्ट्रीय मीडिया ब्लूमबर्ग की खबर के मुताबिक सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने ऑनलाइन टेंडर जारी कर ऐसी कंपनी से आवेदन मांगा है. कंपनी ऐसी जो सोशल मीडिया की निगरानी के लिए एक सॉफ्टवेयर समेत कम से कम 20 लोगों की विशेष टीम के साथ सरकार को एक रियल टाइम न्यू मीडिया कमांड रूम की सुविधा दे सके।  मंत्रालय के विज्ञापन के मुताबिक उक्त कंपनी को ट्विटर, यू-ट्यूब, लिंक्डइन समेत तमाम इंटरनेट फोरम और ईमेल की मॉनिटरिंग करते हुए इन प्लेटफॉर्म्स पर संवेदनशील पोस्ट्स की पहचान करनी है. इसके साथ ही कंपनी को फेक न्यूज की पहचान करते हुए केन्द्र सरकार के नाम से पोस्ट्स और मैसेज का संचार करना है. केन्द्र सरकार का दावा है कि वह संवेदनशील और फेक कंटेन्ट को रोकने के साथ-साथ ऐसे पोस्ट का संचार करवाएगी जिससे देश की अच्छी छवि बनाने में मदद मिले. Source- Aaj Tak

दलित वर्कर का मर्डर, पीठ पर लिखा- BJP में काम करोगे तो यही अंजाम होगा

पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में बीजेपी के एक दलित कार्यकर्ता की हत्या कर उसकी लाश एक पेड़ से लटका दी गई. उसकी लाश के पीछे एक पोस्टर भी चिपका था, जिस पर लिखा था “बीजेपी के लिए काम करने का यही हश्र होगा.”  घटना पुरुलिया के बलरामपुर थाना इलाके की है, जहां सुपढ़िह गांव के पास जंगल में एक पेड़ पर बीजेपी के दलित कार्यकर्ता की लाश लटकी देखकर इलाके में सनसनी फैल गई. मृतक की पहचान 18 वर्षीय त्रिलोचन महतो के रूप में हुई. बीजेपी नेताओं का कहना है कि कुछ नकाबपोश लोग उस युवक को जबरन उसके घर से उठाकर ले गए थे..Source- Aaj Tak

बीजेपी को 5 राष्ट्रीय पार्टियों के संयुक्त चंदे से 9 गुणा अधिक चंदा मिला

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट में कहा गया है कि बीजेपी द्वारा घोषित चंदा भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (आईएनसी), राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी), सीपीआई , सीपीएम , अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (एआईटीसी) को कुल मिलाकर प्राप्त चंदे से नौ गुना अधिक है. सात राष्ट्रीय दलों को 2016-17 में ‘ अज्ञात स्रोतों ’ से 710.80 करोड़ रुपये का चंदा मिला है. वहीं इस दौरान पार्टियों द्वारा घोषित चंदा (20,000 रुपये से अधिक राशि में) 589.38 करोड़ रुपये रहा है. एक रिपोर्ट में कहा गया है कि इसमें से 532.27 करोड़ रुपये का घोषित चंदा अकेले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को मिला. उसे यह चंदा 1,194 इकाइयों से प्राप्त हुआ. Source- ZeeNews

यूपी का एक और बीजेपी विधायक नाबालिग के साथ रेप मामले में फंसा

बीजेपी के एक और विधायक पर नाबालिग के साथ रेप करने व जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगा. बदायूं के बिसौली से भाजपा विधायक कुशाग्र सागर पर उनकी नौकरानी की नाबालिग बेटी के साथ दुष्कर्म का आरोप लगा है.  एसएसपी के सामने पीड़ित युवती ने आरोप लगाया कि कुशाग्र ने पहली बार उसके साथ करीब पांच साल पहले अपने ग्रीन पार्क स्थित आवास में दुष्कर्म किया था. उस वक्त युवती नाबालिग थी  Source-  Dalit Dastak

सरकार की साजिश – वंचित समाज, गरीबो और महिलाओं को उच्च शिक्षा से दूर करना

दिल्ली विश्वविद्यालय के शिक्षक काफी महीनो से मोदी सरकार की अलग अलग नीतियों के तहत उच्च शिक्षा में दख़लअंदाज़ी और उसके कारण पैदा होने वाले संकटो के खिलाफ आंदोलन कर रहे है उनका मानना है की मोदी सरकार कॉलिजों को स्वायत्ता प्रदान करने के नाम पर उच्च शिक्षा का बाज़ारिकरण कर रही है। ऐसा अगर हो गया तो उच्च शिक्षा वंचित समाज के छात्रों, गरीबो और महिलाओं की पहुँच से दूर हो जाएगी क्योंकि ये लोग लाखो रूपये की फीस नहीं दे पाएंगे Source- Jansangharsh.in

 

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *